ALL भारत खबर लोकल खबर ब्रेकिंग न्यूज़ कोरोना अन्य हेडलाइन ऑटो मोबाइल टेक लोकल अपडेट ब्रेकिंग विडियो गैलरी
यूपी: सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंत्री राजभर का इस्तीफा नामंजूर किया
March 9, 2020 • dr nisha nigam

 

पिछले लंबे वक्त से राजभर योगी सरकार के खिलाफ तल्ख तेवर अपनाए हुए हैं. राजभर ने अकेले लोकसभा चुनाव लड़ने का एलान भी किया है. 

 

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोकसभा चुनाव में अपने सहयोगियों को साथ बनाए रखने को लेकर बड़ा कदम उठाया है. योगी आदित्यानाथ ने नाराज चल रहे पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओम प्रकाश राजभर के इस्तीफे को अस्वीकार कर दिया है. कुछ दिन पहले राजभर ने अपने पसंदीदा लोगों को अपने ही विभाग से जुड़े आयोग में जगह नहीं दिये जाने पर नाराजगी जताते हुए इस्तीफे की पेशकश की थी.

 

इस्तीफा स्वीकार नहीं होने की जानकारी देते हुए राजभर ने खुद दी. राजभर ने कहा, ''शुक्रवार रात मैंने मुख्यमंत्री से मुलाकात करके पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग की जिम्मेदारी से अपना इस्तीफा उन्हें सौंपा था, जिसे योगी ने नामंजूर कर दिया.''

 

राजभर ने कहा, ''मैंने सीएम से कहा जब उन्हें अपने ही विभाग से जुड़े पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग में अपने पसंदीदा लोगों को रखने का अधिकार नहीं है तो विभागीय मंत्री होने का क्या औचित्य है.''

 

राजभर ने बताया कि इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आयोग के सदस्यों की सूची बीजेपी संगठन ने तैयार की थी, खुद उन्होंने नहीं. वह इस मामले को आगे देखेंगे.

 

मंत्री ने कहा कि वह पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग से इस्तीफा देने के रुख पर अब भी कायम हैं. उन्होंने बताया कि पिछड़े वर्गों के लिये आरक्षण की सिफारिश लागू करने की मांग के बारे में मुख्यमंत्री ने कहा कि वह दो—तीन दिन बाद इस बारे में बैठकर बात करेंगे.

 

राजभर ने पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग की 27 सदस्यीय समिति में शामिल करने के लिये नामों की सूची दी थी, मगर उनमें से किसी को भी शामिल नहीं किया गया. इसके विरोध में उन्होंने पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री के पद से इस्तीफा देने का फैसला किया था.

 

बता दें कि पिछले लंबे वक्त से राजभर योगी सरकार के खिलाफ तल्ख तेवर अपनाए हुए हैं. राजभर ने अकेले लोकसभा चुनाव लड़ने का एलान भी किया है. लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि जल्द ही वह सीटों के बंटवारे को लेकर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात भी कर सकते हैं.